सूचना-

500+ ब्लोग्स के संकलक में आपका स्वागत है |

अगर आपका ब्लॉग यहाँ अब तक शामिल नहीं हुआ है तो अपने ब्लॉग का पता (URL) और विषयवस्तु कॉमेंट के रूप में छोड़ दें अथवा इस पते पर ई-डाक भेजें-pradip_kumar110@yahoo.com

इस ब्लॉग को फॉलो करें और साझा करें |

सहयोगी

ब्लॉग"दीप" का लोगो अपने ब्लॉग में लगायें


नीचे दिये गए html कोड को कॉपी करें और अपने ब्लॉग में Add html gadget में जाके पेस्ट करके save कर लें |

Monday, September 9, 2013

कुछ नए ब्लॉग

आप सबके सामने प्रस्तुत है कुछ नए ब्लोग्स:-
आप सभी से अनुरोध है कि इन नए ब्लोग्स का अवलोकन करें और ब्लोगरों का उत्साह बर्धन करें । उनकी कमियों की और ध्यानाकर्षित करवाएँ और उनका मार्गदर्शन करें ।

हिंदी ब्लॉग समूह


हिंदी लेखक मंच


हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल



इन सबके अलावा अगर आपकी नजर में और भी कोई नया ब्लॉग है या कोई ऐसा ब्लॉग जो अब तक ब्लॉग"दीप" में शामिल नहीं है तो जरूर सूचित करें | उसका लिंक कमेंट के रूप में दे दें |

नए ब्लोगों को यहाँ जोड़ने में आपका सहयोग भी आपेक्षित है |

5 comments:

  1. प्रदीप जी बहुत ही अच्छा प्रयास किया है आप ने आगे भी ऐसे ही चलता रहे , सभी ब्लॉग एक ही जगह हम को पढने को मिल जाते है आप का बहुत अच्छा प्रयास मुझे पसंद आया , और आप मेरे ब्लॉग को यहाँ तक लाये आप का बहुत बहुत आभार हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनायें स्वीकार करें !

    ReplyDelete
  2. हिन्दी साहित्य लेखन में अनेकों साहित्यकारों ने अपना सारा जीवन लगा दिया। जिनमे से अनेक साहित्यकार अब नहीं रहे. पर ये साहित्यकार हमेशा के लिए इतिहास में
    अमर हो गए ।आज इन साहित्यकारों के कार्यो से हमें एक ऊर्जा लेने की जरूरत हैं । , आज भी हिन्दी साहित्य मौजूद हैं लेकिन हम इसे अनदेखा कर रहे हैं । हिन्दी
    साहित्य के वो रत्न जिनके कारण आज हिन्दी साहित्य गर्व के साथ खड़ा हुआ हैं, उनकी रचनाओं को आप तक पहुंचाने के लिये उजाले उनकी यादों के हमेशा प्रयासरथ है। इस ब्लौग पर आप प्रत्येक दिन 2 रचनाएं
    पढ़ेंगे

    कविता मंच प्रत्येक कवि अथवा नयी पुरानी कविता का स्वागत करता है . इस ब्लॉग का उदेश्य नये कवियों को प्रोत्साहन व अच्छी कविताओं का संग्रहण करना है. यह सामूहिक
    ब्लॉग है . पर, कविता उसके रचनाकार के नाम के साथ ही प्रकाशित होनी चाहिये. इस मंच का लेखक बनने के लिये kuldeepsingpinku@gmail.com
    पर मेल करें। मैं आप को शीघ्र कवि के रूप में आमंत्रित कर दूंगा. आप यहां हिंदी के पुराने कवियों की रचनाएं भी प्रकाशित कर सकते हैं
    हमारा अतीत कह रहा है...
    हम आज क्या से क्या हुए, भूले हुए हैं हम इसे,
    है ध्यान अपने मान का, हममें बताओ अब किसे! पूर्वज हमारे कौन थे, हमको नहीं यह ज्ञान भी, है भार उनके नाम पर दो अंजली जल-दान भी। हम हिन्दुओं के सामने आदर्श जैसे प्राप्त हैं
    संसार में किस जाती को, किस ठौर वैसे प्राप्त हैं ,
    भव - सिन्धु में निज पूर्वजों के रीति सेही हम तरें , यदि हो सकें वैसे न हम तो अनुकरण तो भी करें ।
    आप भी इस मंच का रचनाकार बनकर या रचना भेजकर योगदान करें। अधिक जानकारी के लिये kuldeepsingpinku@gmail.com
    पर संपर्क करें

    मन का मंथन [मेरे विचारों का दर्पण]

    ReplyDelete
  3. kripaya http://awaraniraj.blogspot,in ko bhi shaamil karein.

    ReplyDelete
  4. सुंदर प्रस्तुति
    मेरे ब्लॉग पर आप सभी का स्वागत है.
    http://iwillrocknow.blogspot.in/

    ReplyDelete

कृपया अपनी राय दें और कोई सुझाव हो तो अवश्य बताएं |
अगर आपकी नजर में कोई ऐसा ब्लॉग है जो अब तक यहाँ नहीं जुड़ा है तो उसकी जानकारी दें |
अग्रिम धन्यवाद |

समाचार

हास्य-व्यंग्य से

ज्योतिष से